AR Full Form: AR का फुल फॉर्म Augmented Reality होता है ! और ऑगमेंटेड रियलिटी यह AR Full Form in Hindi है ! जब हम Augmented reality कहते हैं, तो लोग अक्सर “The Amazing Spider-Man” जैसी फिल्मों के बारे में सोचते हैं !

लेकिन अब Augmented Reality Hollywood, Headset और Gaming से आगे निकल गई है और Inspection और repairs जैसे मामलों में इसका इस्तेमाल किया जा रहा है !

ज्यादातर लोग सोचते हैं कि AR और VR एक ही हैं लेकिन यह दोनों तकनीक अलग है। Augmented Reality (AR) क्या है, यह जानने के लिए आपको सबसे पहले यह Article पढ़ना होगा, इससे आपको Augmented Reality meaning in hindi और इसके उपयोग के बारे में आसान भाषामे जानकारी मिल जाएगी।

Augmented Reality क्या है?

जिस Technology में Text, Graphics, Audio और अन्य Virtual Enhancement का इस्तेमाल किया जाता है उसे Augmented Reality कहा जाता है

ar-full-form-in-hindi

AR Technology का इस्तेमाल करने के लिए हमें AR Headset की मदद लेनी पड़ती है। AR के मदद से हम संगणकीय चीज़े वास्तव में देख सकते है। AR टेक्नोलॉजी में Machine Learning और Artificial Intelligence का इस्तेमाल किया जाता है।

Augmented reality real-world की वस्तुओं पर digital images या data प्रदान करती है।

AR तकनीक उदाहरण 3D Photos, text message और Email को Pop-out करना है !

Augmented Reality काम कैसे करता है?

AR में Mapping और Depth Tracking इन Technology का इस्तेमाल किया जाता है ! इसके मदद से हम आसानीसे संगणकीय चीज़े वास्तविक रूप में देख सकते है !

इस प्रक्रिया में कैमरा संगणक से Data लेता है और आपको AR Headset की मदद से Digitally दिखाता है !

इसमें आपके वातावरण के हिसाबसे Realtime Digitalize चीज़े दिखाई जाती है ! जिससे हमें लगता है की यह वास्तविक है ! पर असलियत में यह Digital होता है !

आप Smartphone या विशेष hardware के साथ (एआर) augmented reality का अनुभव कर सकते हैं !

Augmented Reality का इतिहास 

  • 1957 में Morton Heilig ने पहली बार Cinematographer के माध्यम से Augmented reality की खोज कियी !
  • अमेरिकी कंप्यूटर वैज्ञानिक इवान सदरलैंड ने 1968 में एक आभासी दुनिया में एक तरह की खिड़की के रूप में हेड-माउंटेड डिस्प्ले का प्रदर्शन किया !
  • 1922 में पहली बार ठीक से काम करने वाली AR system को USAF Armstrong’s की Research Lab में Louis Rosenberg द्वारा विकसित किया गया था !
  • इसे Virtual Fixtures कहा जाता था और यह एक अविश्वसनीय रूप से complex Robotic system थी जिसे high-speed वाले 3D graphics processing power की कमी की भरपाई के लिए तैयार किया गया था 90 के दशक में !
  • Bruce Thomas ने 2000 में ARQuake नामक एक Outdoor Mobile AR game विकसित किया !
  • 2009 में ARToolkit को Adobe Flash में उपलब्ध कराया जा रहा है !
  • 2013 में Google ने Google Glass के अपने open beta की घोषणा की !
  • Microsoft ने 2015 में augmented reality समर्थन और उनके augmented reality headset Hololen’s की घोषणा की !

Application of AR

  • AR apps विकसित किए जा रहे हैं जो text, image, video आदि को embed करते हैं !
  • Printing, Advertising और कही सारे Digital magazines अपना Business बढ़ाने के लिए Augmented Reality का इस्तेमाल कर रहे है !
  • AR technology आपको अनुवाद apps के विकास की अनुमति देती है जो आपको आपके लिए अन्य भाषाओं में text की व्याख्या करने में मदद करता है !
  • Unity 3D engine tool की मदद से, real-time 3D games को विकसित करने के लिए AR का उपयोग किया जा रहा है !

Advantage of AR

  • यह Technology हम व्यक्तिगत भी सिख सकते है !
  • Innovative और continuous सुधार प्रदान करता है !
  • Accuracy बढ़ाता है!
  • Augmented reality का उपयोग उपयोगकर्ता ज्ञान और जानकारी बढ़ाने के लिए किया जा सकता है !
  • लोग लम्बी दुरी से इसका अनुभव ले सकते है !
  • Developer को game बनाने में मदद करता है जो उपयोगकर्ता को “real” अनुभव प्रदान करता है !

Disadvantage of AR

  • AR Technology पर आधारित चीज़े बोहोत मेहेंगी होती है !
  • privacy की कमी यह AR का सबसे बड़ा Disadvantage है !
  • Augmented reality मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों का कारण बन सकती है !
  • Augmented Reality की कम सुरक्षा उसके Principle पर प्रभावित होते है !
  • AR technology के साथ अत्यधिक व्यस्तता स्वास्थ्य संबंधी प्रमुख समस्याओं जैसे eye problem और obesity आदि को जन्म दे सकती है !

Difference between AR and VR

AR VR
System augments वास्तविक दुनिया के दृश्य है ! पूरी तरह से immersive virtual environment
AR उपयोगकर्ता में हमेशा real-world में उपस्थिति की भावना होती है ! VR में, virtual sense system के नियंत्रण में हैं !
AR 25% virtual और 75% real है ! VR 75% virtual और 25% real है !
यह technology उपयोगकर्ता को क्रिया में आंशिक रूप से डुबो देती है ! यह technology पूरी तरह से उपयोगकर्ता को कार्रवाई में डुबो देती है !
AR को 100 Mbps bandwidth की आवश्यकता होती है ! VR को कम से कम 50 Mbps connection की आवश्यकता होती है !
कोई AR handset की जरूरत नहीं है ! कुछ VR handset device की जरूरत है !
AR के साथ, end-user अभी भी real world के संपर्क में हैं, जबकि उनके पास virtual वस्तुओं के साथ बातचीत कर रहे हैं ! VR technology का उपयोग करके, VR उपयोगकर्ता real-world से अलग हो जाता है और पूरी तरह से काल्पनिक दुनिया में खुद को immerses कर देता है !
इसका उपयोग real और virtual दोनों दुनिया को बढ़ाने के लिए किया जाता है ! इसका उपयोग gaming की दुनिया के लिए Fictional reality को बढ़ाने के लिए किया जाता है !

 

 

Previous articleinstagram funny comments in hindi
Next articleNEFT Full form In Hindi
नमस्ते मित्रो , में merihindi.net का Co - Founder Atharva Waikar आपका स्वागत करता हु | मेरा Education Background देखने जाये तो Engineering Graduate हु | मुझे लोगो तक Technical जानकारी पोहोचाना पसंद है | मुझे नए Technical Update के बारेमे बतानेमें ख़ुशी मिलती है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here