Cloud Computing क्या हैं ?

0
4497

Cloud Computing In Hindi – दिन-ब-दिन Technology तेजी से बढ़ रही है। इसीलिए हमें भी technology के साथ साथ आगे बढ़ना होगा। आपने Cloud Computing का नाम जरूर सुना होगा । तो आज हम देखेंगे Cloud Computing क्या हैं?

आज के इस लेख में आपके सारे सवालोंका का हल देंगे जैसे what is cloud computing in hindi ? , cloud computing meaning in hindi , Cloud Computing क्या हैं ?, History of Cloud in Hindi,Advantage and Disadvantahe of cloud computing in hindi.

आजकल Cloud Computing सबसे लोकप्रिय technology में से एक है जो computing दुनिया का एक integral part बन गया है। Cloud Computing का उपयोग और लोकप्रियता हर दिन बढ़ रही है और आगे भी बढ़ने की उम्मीद है।

what is cloud computing in Hindi?

Cloud Computing को Internet पर Data और Computing service को storing करने और accessing करने के रूप में परिभाषित किया गया है।

Virtual server, data storage, networking, database जैसी computer service अभी cloud computing में उपलब्ध है , आप इसका जितनी समय तक इस्तेमाल करते हो आपको उतनाही भुगतान करना पड़ता है । Cloud का विभिन्न उपयोगकर्ताओको (Users) Data Center तक पोहचाने का उद्देश्य है ।

यह आपके Personal computer पर कोई data storage नहीं करता है। क्युकी Cloud आपका सारा Data उसके server पे भेजता है जिसके मदद से आप data को कहीं से भी access कर सकते हैं।

Cloud आपको कुछ ऐसा Platform देता है जिसकी मदद से आप App बना सकते हो , Website बना सकते हो , designing कर सकते हो इन जैसे बोहोत सारे काम आप Cloud Computing पर कर सकते हो । AWS, Google Cloud और Azure ये Cloud Computing के कुछ उदाहरण है

History of Cloud Computing in Hindi

Technology के शुरुआती युग में, client / server computing था जो centralized storage होता है जिसमें सभी Software application, सभी data और सभी control server रहते थे।

1961 में, John MacCharty ने MIT में भाषण में प्रस्ताव दिया कि computing को एक उपयोगिता (utility) की तरह बेचा जा सकता है। ये Computing services के बारे में एक शानदार विचार था , लेकिन वो इसके लिए तैयार नहीं थे।

1999 में salesforce.com ने एक साधारण Website के मदद से अपने उपयोगकर्ताओ के लिए Application देना चालू किया था. Salesforce.com ने 1999 में एक साधारण website का उपयोग करते हुए उपयोगकर्ताओं को application देना  शुरू किया। उपयोगिता (Utility ) के रूप में बेचा गया computing का सपना तब सच हो गया था।

2002 में, Amazon द्वारा Amazon Web Services की शुरुआत की गई, जो Computation, storage और यहाँ तक कि human touch जैसी सेवाएँ भी प्रदान करता था ।

Google Apps ने भी 2009 में Cloud computing enterprise application देना शुरू किया । 2009 में, Microsoft ने Windows Azure lunch किया.

और Oracle और HP जैसी companies ने भी सेवा देना शुरू कर दिया था। यह साबित करता है कि आज, cloud computing विशेष बन गया है।

Types of cloud computing

Public Cloud क्या है?  

public-cloud-image

Public Cloud जिसे हम External Cloud भी केहे सकते है। Public Cloud में Cloud Service Provider कुछ

resources देता है जैसेकि Storage , Application और कही सारे services जो आम जनता Web Application और Website के जरिये इस्तेमाल कर सकती है।

IBM का Blue cloud, Sun cloud, Google AppEngine, Windows Azure Service Platform ये public cloud के कुछ उदाहरण है

Private Cloud क्या है?

private-cloud-image

Private Cloud में Cloud Service Provider सिमित लोगो को Firewall के मदद से सर्विस देता है।

जैसेकि इसके नाम से ही पता चल जाता Private Cloud जो आम लोग इस्तेमाल नहीं कर सकते। इस Cloud का स्वामित्व सिर्फ Organisation और Third Party Users ही संभाल सकते है

Simple storage service (S3), Red Hat और SaM CloudBOX Private cloud उदाहरण में शामिल हैं।

Community Cloud क्या है?

community-cloud-image

Community Cloud सिर्फ एक संगठन (Organization) ही संभाल सकता है जिसे अच्छी सुरक्षा चाहिए या फिर वो किसी प्रकार के मिशन पे हो। इस प्रकार का Cloud Infrastructure विभिन्न संगठन (Organization) में शेयर किया जाता है। जिनका लक्ष्य एकहि होता है ।

Public Cloud के उदाहरण :  Google Government cloud, IGT cloud और Optum Health care cloud.

 Hybrid Cloud क्या है?

hybrid-cloud-image

Hybrid Cloud ये Public Cloud और Private Cloud  का मिश्रण होता है

इस प्रकार के cloud में हम हमारे काम के अनुसार Public या Private Cloud का इस्तेमाल कर सकते है।
Eucalyptus और GoGrid Hybrid cloud service  के उदाहरण हैं।

Cloud computing Service Models

1. Software-as-a-Service(SAAS)

यह एक Software distribution model है। इस model में, applications को cloud service provider द्वारा host किया जाता है और ग्राहकों को Internet पर प्रचारित किया जाता है।

SaaS में, associated data और software को cloud server पर centrally रूप से host किया जाता है।
लोग इसमें web browser के माध्यम से thin clients का उपयोग करके इस सर्विस तक पहुंच सकता है।

CRM, office suite, Email, games आदि ऐसे software application हैं जो internet के माध्यम से हम इस्तेमाल कर सकते हैं ।

2. Platform-as-a-service(PaaS)

Paas जिसे हम Platform -As -Service कहते है।

इसमें हमें Platform मिलता है। जिसकी मदद से app बना सकते है, Website बना सकते है और उन्हें manage भी कर सकते है।

इसमें हमें OS, Middleware , runtime इन जैसे चीज़े मिलती है। इसमें हम जितना इस्तेमाल करते है उतनाही हमें भुगतान करना पड़ता है

Google Apps Engine (GAE), Windows Azure, SalesForce.com PaaS के उदाहरण हैं।

3. Infrastructure-as-a-service(IaaS)

IaaS server, storage, network और operating system जैसे cloud computing infrastructure इस तरह के सर्विस देता है। ।

ग्राहक cloud computing platform यानी internet पर इन संसाधनों को on-demand service के रूप में access कर सकते हैं

IaaS में, आप server, software, datacenter space या network equipment खरीदने के बजाय पुरे resources खरीदते हैं।

Small Business Ideas in Hindi

भारत का सबसे बड़ा राज्य कोन सा है ?

Advantage of Cloud Computing :

Cost Savings

Cost Saving सबसे बड़े Cloud Computing लाभों में से एक है। यह आपको substantial capital cost में मदद करता है क्योंकि इसमें किसी भी hardware investments की आवश्यकता नहीं होती है|

High Speed

Cloud Computing में हमें बोहोत कम समय में अच्छी सर्विस मिलती है। इसमें हमें बोहोत कम समय में आवश्यक चीज़े मिल जाती है.

Back-up and restore data

एक बार cloud में data stored हो जाने के बाद, उसका back-up लेना और उसकी recovery करना आसान हो जाता है।

Reliability

Reliability Cloud hosting के सबसे बड़े advantage में से एक है। हमें हर चीज़ का कम समय में तुरंत update मिल जाता है। ।

Unlimited storage Capacity

Cloud Storage का कोईभी अंत नहीं है। इसमें हमें अनगिनत Storage मिलती है। हम किसी भी समय हमारे cloud की storage बड़ा सकते है। ।

Disadvantage of Cloud Computing:

Downtime

Cloud Computing के साथ काम करते समय downtime पर भी विचार किया जाना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि आपके cloud provider को, कम internet connectivity, service maintenance आदि का सामना करना पड़ सकता है

Internet Connectivity

Cloud Computing में अच्छा internet connectivity होना बहुत जरूरी है। आप internet connection के बिना cloud तक नहीं पहुंच सकते। इसके अलावा, आपके पास cloud से लाभ उठाने का कोई अन्य तरीका नहीं है।

Lower Bandwidth

कई Cloud storage service provider अपने ग्राहकों के लिए Bandwidth कम रखता है।

यदि आप किसी Organisation के लिए Cloud का इस्तेमाल कर रहे हो तो आपको ये मेहेंगा पड सकता है ।

Lack of Support

Cloud Computing Service Provider अपने ग्रहोको को कही बार अच्छी service देने में नाकाम रहा है।

क्युकी Cloud उनके users के सवालो के हल Online माध्यम से देते है जो के Non -Technical लोगों के समझ में नहीं आता।

आज क्या सीखा

आजके इस लेख में Cloud Computing in Hindi मे जानकारी देखि जैसेकि Cloud Computing क्या है?, what is cloud computing in Hindi?, Cloud Computing का इतिहास। Types of cloud computing. Cloud computing Service Models. Advantage and Disadvantage of Cloud computing  इन जैसे सर्व सवालोंके हमने आज जवाब देखे।

तो में आशा करती हु आजका ये Cloud Computing का लेख आपको पसंद आया होगा अगर पसंद आया हो तो Share जरूर करे और इस लेख के बारेमे मनमे कुछ सवाल हो तो comment जरूर करे धन्यवाद।

Try

Online Hindi Typing

Previous articleTelegram क्या है?
Next articleInternet क्या है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here