nasa-full-form-hindi

NASA Full Form in Hindi राष्ट्रीय वैमानिकी और अंतरिक्ष प्रशासन है ! और National Aeronautics and Space Administration यह इसका अंग्रेजी फुल फॉर्म है ! नासा यह अमेरिकी सरकारी एजेंसी है !

अंतरिक्ष जिसके बारे मे जानने में हर कोई उस्तुक होता है ! अंतरिक्ष में कुल मिलाकर आठ ग्रह है जिस पे कही सारे वैद्न्यानिक संशोधन करते है, जिसमे से एक है नासा !

जैसे की फुल फॉर्म से पता चल जाता है नासा यहाँ अंतरिक्ष में काम करने वाली एक संघटना है !  नासा जिसमे काम करने के लिए कही सारे लोग सपने देखते है, आखिर क्यू न देखे नासा के salary पैकेज ही इतने बड़े होते है इंसान आरामसे बैठके खा सकता है।

नासा में काम मिलना कोई आसान बात नहीं है !  आपको कही सारे परीक्षा और कड़ी मेहनत से ही नासा में job मिलता है !  नासा के बारेमे हमने कही सारी जानकारी देखी पर क्या आपको नासा के इतिहास के बारे में पता है ! आखिर नासा कहा कि कंपनी है, नासा की स्थापना कैसे हुई इन जैसे सवाल आपके मन में भी आते होंगे !

अगर आपभी नासा के बारेमे जानना चाहते है तो आप सही लेख पर आ चुके हो आजके इस लेख में हम नासा की जानकारी के साथ कुछ ऐसे रोचक तथ्य जानने वाले है के आपके होश उड़ जाएंगे तो चलिए देखते है की आखिर क्या है नासा।

NASA क्या है?

नासा जिसे National Aeronautics and Space Administration भी कहा जाता है।  नासा यह एक संयुक्त राज्य अमेरिका की सरकारी शाखा है जो वायु, अंतरिक्ष aerospace के संशोधन के लिए जिम्मेदार है।

नासा की स्थापना जुलाई 29, 1958 मतलब 63 साल पहले हुई थी।  अंतरिक्ष के बारेमे संशोधन करना यह नासा का मुख्य हेतु है।  नासा का अधिकारी क्षेत्र अमेरिका सरकार के अंतर्गत आता है ! नासा का मुख्यालय Washington D।  C।  में है इसके साथ नासा में लगभग 18,000 से भी ज्यादा कर्मचारी काम करते है।

NASA का वार्षिक बजट 17.8 Billion Dollar तक है ! फेब्रुअरी 2006 से नासा का Aeronautics संशोधन के लिए बढ़ावा देना लक्ष्य है ! नासा में संशोधन के साथ साथ उपग्रह भी बनाये जाते है !  नए नए अविष्कार और संशोधन के लिए नासा जाना जाता है !

नासा का इतिहास

लगभग 63 साल पहले मतलब 29 जुलाई 1958 को नासा की स्थापना हुई ! पर आखिर क्यू हुई यह प्रश्न आपके मन में भी आया होगा तो चलिए देखते है आखिर क्या है नासा का इतिहास !

1950 के दौरान कृत्रिम उपग्रह अंतरिक्ष में छोड़ना बोहोत ही कठिन काम था !  पर इसी दौरान अक्टूबर 4, 1957 में Sputnik I नाम का पहला उपग्रह सोवियत संघ द्वारा अवकाश में लॉंच कर दिया !

Sputnik I, 4 October 1959 में 7:28 बजे लॉंच कर दिया गया था !  इसका निर्माण Ministry of Radiotechnology Industry द्वारा किया गया था !  इसका launch Mass लगभग 83। 6 kg और Dimension 58 cm था ! कहा जाता है Sputnik I को कुल मिलाकर 22 दिन लगे थे !

स्पुतनिक I के सफल Launch के बाद अमेरिका के होश उड़ गए थे !  Sputnik I के वजह से अमेरिका को बोहोत सारा नुकसान पोहोच सकता था इसी कारन Sputnik I के बारेमे अमेरिका में डर का मोहोल बन गया था !

Sputnik I के जवाब में अमेरिका को कुछ ऐसा करना जरुरी था उससे उनकी ताकद बढे !  इसी दौरान अमेरिका ने नासा की स्थापना कियी !

नासा के स्थापना के बाद भी सोवियत संघ चुप नहीं बैठा ! 3 नवंबर 1957 को सोवियत संघ ने Sputnik 2 नाम के उपग्रह को अंतरिक्ष में लॉंच कर दिया !

Sputnik 2, 3 नवम्बर 1957 को 2:30 बजे लॉच किया।  इसका Launch mass 508.3 किलोग्राम था जिस मिशन को लगभग 162 दिन लगे थे !

नासा के स्थापना के बाद दिसंबर को अपना पहला vanguard नाम का उपग्रह लॉंच किया था पर अफ़सोस Takeoff के बाद यह उपग्रह असफल हो गया !

हार न मानते हुई अमेरिका ने दोबारा अक्टूबर 31, 1958 को Explorer I नाम का उपग्रह लॉंच कर दिया !  कहते है न कोशिश करने वालोंकी कभी हार नहीं होती !  Explorer I नाम का उपग्रह सफलतासे अंतराल में लॉंच हो गया !

Explorer I का निर्माण Jet Propulsion Laboratory में हुआ था।  इस मिशन को लगभग 120 दिन लगे थे।  इस उपग्रह का Dimension 203 cm Length और 15.2 cm Diameter में था जॉन के. कैनेडी जो की अमेरिका के राष्ट्रपति थे उन्होंने चाँद पर आदमी भेजेंगे ऐसी घोषणा कियी।

इसके बाद जुलाई 20 को अमेरिका के निल आर्मस्ट्रांग चाँद पर पैर रखने वाले आदमी बने थे।  इस मिशन का नाम था Apollo ११, इस मिशन कोई भी भूल नहीं सकता क्युकी यह अमेरिका के लिए बोहोत बड़ी चुनौती थी।

16 जुलाई 1969 को अपोलो ११ मिशन सफल हुआ था।  इस मिशन Saturn V नाम के रॉकेट का इस्तेमाल किया गया था।  इस मिशन को लगभग 8 दिन लगे थे।  इस मिशन में चाँद पर जाने वाले 3 लोग थे
Neil A.  Armstrong
Michael Collins
Edwin E,  Aldrin Jr
इस मिशन को North American Rockwell में निर्माण किया गया था।

नासा के कार्य और कुछ सफल मिशन

अब हम नासा के कुछ ऐसे पांच मिशन के बारेमे जानकारी देखेंगे जिसमे नासा सफल हुआ था।

1. Apollo Program

इस मिशन के बारेमे इन दिनों भी हर जगह चर्चा हो रही है।  Apollo मिशन के तहत पहेली बार NASA ने इंसान को चाँद पर भेजा।

अपोलो मिशन के वजह से निल आर्मस्ट्रांग यह चाँद पर पैर रखने वाले पहले इंसान बने।  इससे पता चलता है इंसान कितना आगे बढ़ गया है।

2.  Project Mercury

इस मिशन के तहत NASA ने पहेली बार इंसान कोण अंतरिक्ष में भेजा था।  यह मिशन 1958 से 1969 तक चला था।

Project Mercury में लगभग 25 उड़ने भरी गयी थी इनमे से सिर्फ ६ उडानो मे अंतरिक्ष यात्री थे।  इस मिशन में लगभग 277 million Dollar तक खर्चा आया था।

3. Vyogar

Vyogar1 और vyogar2 के मदद से हमें बृहस्पति और शनि इन ग्रहों के बारेमे कही सारे जानकारी मिली !

Vyogar के मदद से सिर्फ शनि और बृहस्पति नहीं बल्कि इसके साथ Neptune, चन्द्रमा ! अंतरिक्ष में ज्वालामुखी के बारे मे भी जानकारी सिर्फ नासा के Vyogar के मदद से मिली !

4. Spitzer

Spitzer यह अंतरिक्ष में से कही सारे रहस्यों के बारेमे पडदा उठाने वाला पहला Telescope था।

इसके मदद से Nebulae, Stars और आकाशगंगा के बारेमे कही सारे Pictures और जानकारी मिली थी।

5. Hubble

यह नासा का Space Telescope है।  जिसके मदद से अंतरिक्ष बारेमे कही सारे जानकारी हमें मिल पायी।

इस मिशन को लगभग 31 साल लगे थे।

FAQ

नासा कहाँ है?

नासा का मुख्यालय Washington D.C. में स्थित है।

NASA की स्थापना कब हुई?

नासा की स्थापना 29 जुलाई 1958 को हुई।

नासा के प्रशासक कौन है?

मई 3, 2021 से नासा के 14 वे प्रशासक Bill Nelson है।

नासा का फुल फॉर्म क्या है?

नासा का फुल फॉर्म National Aeronautics and Space Administration ! तो इसका हिंदी फुल फॉर्म राष्ट्रीय वैमानिकी और अंतरिक्ष प्रशासन यह है!

नासा में कैसे जाये?

जैसे की हमने देखा नासा में काम करने वाले Engineers को लाखो तक तनख्वा मिलती है। नासा में काम करना हर किसी का सपना होता है। नासा में काम करने के लिए आपको Science, Technology, Engineering या फिर math's इन मेसे कोई एक विषय में Bachelor's Degree अनिवार्य होती है।

अगर आप JEE जैसे प्रवेश परीक्षाएं उत्तीर्ण कर लेते हो तो आप आसानीसे NASA में काम कर सकते हो, क्युकी नासा में IIT वाले छात्रोंकी ज्यादा मांग होती है। नासा में सारे काम चुनौती वाले होते है इसके बोहोत साडी म्हणत और लगन की जरुरत होती है।

नासा का वर्तमान अध्यक्ष कौन है 2021

नासा के वर्तमान अध्यक्ष Bill Nelson है। यह नासा के 14 वे अध्यक्ष है।

आपने क्या सीखा?

तो दोस्तों में आशा करता हु आज का NASA Full Form In Hindi यह लेख आपको पसंद आया होगा। अगर आपको नासा के बारेमे और भी कौनसी जानकारी जननी हो तो कमेंट करे हम आपके कमेंट का जरूर जवाब देंगे। आज के इस लेख में हमने नासा क्या है? से लेकर नासा का इतिहास तक जानकारी देखी,

मैं आशा करता हु आपको नासा का यह लेख जरूर पसंद आया होगा अगर पसंद आया होतो अपने दोस्तों में और परिवार में इसे जरूर शेयर करे कहते है “Sharing Is Caring”। आपके वजहसे और भी लोग NASA के बारेमे जानकारी जान पाएंगे। धन्यवाद ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here