नमस्ते दोस्तों क्या कभी आपने यह सुना है rice bowl of india kya hai ? नहीं न तो यह लेख जरूर पढ़े। आप सभी को राइस बाउल पता ही होगा क्या होता है, राइस बाउल यानि चावल का कटोरा राइस बाउल कहि प्रकार के होते है।

देखने जाये तो McDonald’s rice bowl ,kfc rice bowl लेकिन कभी अपने सुना है rice bowl of india। तो चलिए जानते है उसके पीछे की कहानी।

Rice Bowl of India किसे कहा जाता है ?

 

rice-bowl-of-india

अलग शहरों के अलग नाम दिए है। बहोत सारे ऐसे शहर है जिनकी अलग पहचान है , उनमे से एक यह राइस बाउल ऑफ इंडिया। तो चलिए देखते है राइस बाउल ऑफ इंडिया किसे कहा जाता है।

राइस बाउल ऑफ इंडिया आंध्र प्रदेश को कहा जाता है। आंध्र प्रदेश भारत के पूर्व तट पर है। २ जून , २०१४ को आंध्र प्रदेश के उत्तर पश्चिम भाग का विभाजन किया गया जिसे हम अभी “तेलंगाना” कहते है। उसके बाद हैदराबाद को तेलंगाना और आंध्र प्रदेश की राजधानी बना दी।

भारत के किस राज्य को चावल का कटोरा जाना जाता है ?

भारत का आंध्र प्रदेश राज्य मे तेलंगाना, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा राज्य बंगाल की खाड़ी से चारो और से घेरे हुए है। भारत एकमेव ऐसा राज्य है जिसे चावल का कटोरा के नाम से जाना जाता है।

इसे यह नाम इसलिए दिया गया है, क्योकि यहा चावल का उत्पादन बाकि जगहों से अधिक किया जाता है। यह उत्पादन किये गए चावल पुरे भारत मे ही नहीं बल्कि विदेशो मे भी भेजे जाते है।

भारत एक कृषि प्रधान देश है। जहा चावल और गेहू ज्यादा मात्रा मे उगाए जाते है। चावल और गेहू के उत्पादन मे भारत की मुख्य भूमिका है। भारत मे चावल उत्पादन का सबसे बड़ा राज्य पश्चिम बंगाल है।

देखने जाए तो अकेले पश्चिम बंगाल में बहोत मात्रा मे चावल की फसल करते है। प्रति वर्ष चावल की फसल देड करोड़ मेट्रिक टन होती है। पश्चिम बंगाल ,आंध्र प्रदेश के साथ पंजाब, ओडिशा, तमिलनाडु और आदि द्वारा उत्पादन किये जाने वाले चावल कुल मिलाकर विश्व के २० प्रतिशद होते है। विश्व मे चावल की फसल कुल मिलकर ७०% प्रतिवर्ष होती है।

चावल का कटोरा किस राज्य को कहते है ?

कृष्णा गोदावरी डेल्टा क्षेत्र एक ऐतिहासिक रूप में माना जाता है। कृष्णा गोदावरी डेल्टा क्षेत्र को चावल का कटोरा भी कहा जाता है। छत्तीसगढ़ मे २०,००० से ज्यादा किसम के चावल दर्ज किये गए है।

कोप्पल, बल्लारी और रायचूर इन को कर्नाटक के चावल का कटोरा के रूप मे जाना जाता है। कही महत्वपूर्ण नदिया है , जैसे के गोदावरी, कृष्णा, पेन्ना और तुंगभद्र, जो आंध्र प्रदेश से बहती है जिनसे चावल के खेतो को मदद मिलती है ।

यह अंडे के लिए भी बहोत जायदा जाना जाता है, क्योकि यहाँ अंडे बहोत बड़े पैमाने पर उत्पादित किये जाते है। इसलिए इसे “Egg Bowl of Asia” भी कहा जाता है।

चावल उत्पादन करने वाले राज्य

RANK

STATE

Rice production
in million tonnes

Area under rice
cultivation in
million hectares

1.

West Bengal 

15.75 

5.45

2.

Uttar Pradesh  

12.6

5.90

3.

 Punjab

11.89 

3

4.

 Tamil nadu

7.90 

2.05

5.

 Andhra Pradesh

7.50 

2.17

6.

 Bihar

6.6 

3.20

7.

 Chhattisgrah

6.10 

3.80

8.

 Odisha

5.90 

3.95

9.

 Assam

5.15 

2.45

10.

 Haryana

4.15 

1.34

आज क्या सीखा ?

तो दोस्तों आजका ये राइस बाउल का लेख आपको जरूर पसंद आया होगा। आजके इस लेख में हमने राइस बाउल ऑफ़ इंडिया किसे कहा जाता है इसके बारेमे जानकारी देखि। तो आशा करती हु की आजका लेख आपको जरूर पसंद आया होगा। अगर आजका लेख पसंद आया होतो शेयर जरूर करे। इस लेख के बारेमे मनमे कुछ सवाल हो तो कमेंट जरूर करे।

चुनिंदा सवाल .

Telengana has achieved 1.12 crore tons of paddy, which makes it the rice bowl of the country.

Tamil Nadu is called the yarn bowl of India.

Vietnam and Thailand are called rice bowl of world.

Delhi is called heart of India.

Punjab is the food bowl of India.

Andhra Pradesh is called as Rice bowl of India.

विश्व मे QUABA , और भारत मे Chhattisgarh .

छत्तीसगढ को चावल का कटोरा कहते है।

थाईलैंड को चावल का देश कहा जाता है।

Previous articleमाउस क्या है ? Mouse का आविष्कार किसने किया ?
Next articleविश्व के सबसे बड़े प्रश्न ?
नमस्ते दोस्तों , मेरा नाम Harshada Sutarऔर में merihindi.net की Content Writer आपका स्वागत करती हु | मेरा Education Background Computer B.Tech है | मुझे नयी नयी चीज़ो की जानकारी पढ़ना और उन्हें सभी को बताना अच्छा लगता है | इसे सभी के साथ शेयर करना बोहोत अच्छा लगता है | |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here